यह कार्य हमेशा रखने चाहिए गुप्त

yah karya hmesha rkhne cahiye gupt

पुराने समय में बड़े बुजुर्गो द्वारा कुछ बाते बताई जाती थी और कहा जाता था की अगर हम उन बातो का ध्यान रखेंगे  तो हमारा  जीवन हमेशा  सुख पूर्ण बीतेगा। और वे लोग ये सब बाते हमारे शास्त्रो के अनुसार  कहते थे, हमारे शास्त्रो में बहुत सी बाते लिखी है जिसमे से कुछ ऐसी बाते भी है जिन्हे गोपनीय रखनी चाहिए।  तो आइये जानते है क्या है वह कुछ गोपनीय बाते:

1. हमेशा पति पत्नी की बीच के बाते को गोपनीय रखना चाहिए। कहे वो आपसी वाद विवाद हो या प्रेम प्रसंग की बाते ये आप दोनों की बीच की बात है तो आप दोनों के बीच ही रहनी चाहिए।

2. शास्त्रो में ये मान्यता है की औषधि को अन्य लोगों से छिपाकर रखेंगे तो औषधि रोगों में जल्दी लाभ पहुंचाती है। दवा को रोशनी और गर्मी से भी दूर रखना चाहिए।

3.कभी भी दुसरो को अपनी सही उम्र नई बतानी चाहिए। उम्र बढ़ती रहेगी, लेकिन ऊर्जा और उत्साह में कमी नहीं आनी चाहिए। ये तब ही संभव है, जब हमारी आयु हमारे दिमाग पर हावी नहीं हो।

4. यदि हम किसी बड़े पद पर हैं और समाज में हमें बहुत मान-सम्मान प्राप्त होता है तो इस बात को भी गुप्त रखना चाहिए। क्युकी यह अहंकार का भाव दिखाता है। अहंकार पतन का कारण बनता है और इससे हमारी प्रतिष्ठा कम हो सकती है।

5. आज के समय में धन को किसी भी व्यक्ति की शक्ति का पैमाना माना जाता है। अधिकांश परिस्थितियों में धन के आधार पर ही रिश्ते निभाए जाते हैं और मित्रता की जाती है।अत: यदि हमें कभी भी धन हानि का सामना करना पड़े तो इस बात को गुप्त रखना चाहिए। धन हानि की बात दूसरों को बता देने से लोग हमसे दूरियां बढ़ा लेते है।

6.यदि किसी वजह से हमें अपमान का सामना करना पड़ा हो तो इस बात को गुप्त रखना फायदेमंद होता है। यदि दूसरों को यह मालूम होगा की हमें अपमान का सामना करना पड़ा है तो लोग हमारा मजाक बना सकते हैं।

7. गुरु द्वारा दिए गए मंत्र को गुप्त रखना चाहिए। गुरु मंत्र, तब ही सिद्ध होते हैं, जब इन्हें गुप्त रखा जाता है। मंत्रों को गुप्त रखने पर जल्दी ही शुभ फल प्राप्त होते हैं।

8. गुप्त दान का विशेष महत्व बताया गया है। ऐसा माना जाता है कि जो लोग गुप्त रूप से दान करते हैं, उन्हें अक्षय पुण्य के साथ ही देवी-देवताओं की कृपा से सभी सुख-सुविधाएं प्राप्त होती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *