घर से गए व्यक्ति को वापस बुलाने का उपाय

घर से गए व्यक्ति को वापस बुलाने का उपाय

जैसे जैसे समय बीतता जा रहा है वैसे युवा वर्ग में सयम और धैर्य की कमी नजर आती जा रही है।  विषम और कठिन परिस्थित में बहुत जल्दी ही अपना साहस गवा बैठते है,

अपने आप पर नियंत्रण नहीं रख पाते या किन्हीं कठिन परिस्थितियों का सामना करने में असमर्थ होता है। इस परिस्थित में व्यक्ति घर से भाग जाना ही उचित समझता है।

कई बार युवा प्रेम संबंध में के चलते, घर वाले प्रेम संबंध और प्रेम विवाह को स्वीकार नहीं करते है तो युवा  अपनी इच्छा और अनिच्छा से भाग जाते है। ऐसी परिस्थिति में उसके परिजनों को कितना कष्ट उठाना पडता है इसका अनुमान भागने वाले व्यक्ति कत्य नहीं लगा सकता है। फिर भी परिजन भागने वाले को घर पर वापिस बुलाने के लिए कई प्रयास  करते है। अगर आप भी ऐसी परिस्थिति में है घर से भागे व्यक्ति को वापस बुलाना चाहते है तो यहां पर उपाय और टोटके दिए है जिसकी मदद से आप   खोये और घर से भागे व्यक्ति को वापस बुला सकते है।

 

जब कोई व्यक्ति नाराज होकर घर छोड कर चला जाये और अपने बारे में कोई सूचना भी न दे, न ही उसके बारे में यह मालूम हो कि वह कहां है। तो  घी को आटे में मिलाकर गूंध लें। इसकी एक मोटी रोटी सेक लें। इस पर थोडा गुड रख कर गाय को खिला दें और साथ ही मानसिक रूप से अपने प्रभु से प्रार्थना करें कि उसकी पूजा स्वीकार करें।  ईश्वर से उस व्यक्ति को वापस बुलाने के लिए प्राथना करे।

 

एक साफ भोजपत्र लेकर उस पर जल छिडक कर स्वच्छ कर लें। लाल चंदन को घिस कर लेप बना लें। इस लेप से अनार की कलम द्वारा म्रि यंत्र भोजपत्र पर बना लें। यंत्र मे अमुक वाले स्थान पर गये हुए व्यक्ति का नाम लिख दें।  फिर एक छोटा मिट्टी का नया कलश एवं उस पर ढक्कन ले आयें। इस कलश में यंत्र रख दें। कलश के मुंह पर ढक्कन रखें। ढक्कन में तांबें के 5 गोमती चक्र, 5 सिक्के  एवं 9 कौडिया रखें। कलश को उस कमरे के ईशान कोण में भूमि पर जल छिडक कर रख दें, जहां वह व्यक्ति सोता था। यहीं पूर्व की ओर मुंह करके एक माला निम्र मंत्र की करें। मंत्र जाप के पत उपले की आंच पर बर्फी के प्रसाद का भोग लगावें।  इससे भागा व्यक्ति आपके पास वापस आ जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *