फेंग शुई के अनुसार लाफिंग बुद्धा है समृद्धि का स्त्रोत

feng shui ke anusar laughing Buddha hai samriddhi ka straut

लाफिंग बुद्धा कभी चीन में एक मोटे इंसान की मूर्ति के रूप में देखे जाते थे लेकिन समय के बदलाव और फेंग शुई की लोकप्रियता ने लाफिंग बुद्धा को दुनिया के कोने-कोने में पहुंचा दिया। इनके चमत्कारी प्रभावों और बेहद सस्ते दामों पर मिलने की वजह से ही आज लाफिंग बुद्धा को अपनी यह पहचान और यह प्रसिद्धी हासिल हुई है।

लाफिंग बुद्धा (Types of Laughing Budhha and usage)

  • हंसते हुए बैठे लाफिंग बुद्धा: अगर आपकी आमदनी तो ठीक है, लेकिन घर में बरकत नहीं है तो ऐसे लाफिंग बुद्धा को अपने घर लाएं जो सिक्कों पर बैठे हो या जिन्होंने अपने कंधो पर धन की पोटली लटकाई हो। इससे आपको बरकत मिलेगी।

 

  • कमंडल में बैठे हुए बुद्धा: अकस्मात धन लाभ के लिए आपको ऐसे लाफिंग बुद्धा लाना चाहिए जो कमंडल में बैठे हो।

 

  • दोनों हाथ ऊपर उठाए हुए बुद्धा: अगर किस्मत आपका साथ नहीं दे रही। घर में आर्थिक तंगी है और कोई भी काम नहीं बन पा रहा है तो आपको ऐसे बुद्धा लाने चाहिए जिनके दोनों हाथ ऊपर हो। इनके दोनों हाथों में कमंडल होता है।

 

  • ड्रैगन के साथ बैठे हुए लाफिंग बुद्धा: ड्रैगन और लाफिंग बुद्धा दोनों ही फेंग शुई में बेहद महत्व रखते हैं इसलिए अगर आपको ऐसे लाफिंग बुद्धा मिले जो ड्रैगन के साथ बैठे हो तो यह बहुत ही शुभ होगा।

 

  • कई बच्चों के साथ बैठे हुए बुद्धा (Laughing Budda with children): ये बुद्धा उनके लिए वरदान साबित होते हैं, जिन्हें संतान नहीं हो रही है।

 

  • कहां रखें लाफिंग बुद्धा(Direction for keeping Laughing Buddha): फेंग शुई के अनुसार लाफिंग बुद्धा को घर के मुख्य हिस्से में जहां से घर में आना जाना होता हो वहां रखना चाहिए। यह कुछ इस तरह होने चाहिए कि आते जाते आप इन्हें देख सकें। हालांकि इन्हें पूजा घर में रखने की जरूरत नहीं है। शयनकक्ष में, भोजन कक्ष में(रसोईघर), या अन्य कमरों में हंसता हुआ बुद्धा नहीं रखना चाहिए। बिना मांगे गिफ्ट में मिले लाफिंग बुद्धा अमूल्य और शुभ फलदायी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *