मूलांक और संभावित रोग

mulank aur sambhavit rog

आपको कौन-से रोग सता सकते हैं इसका संबंध आपके मूलांक से भी है। जानें आपको कौन-कौन से रोग  हो सकते हैं।

अंक 1 (जन्म तारीख: 1, 10, 19, 28) : मूलांक 1  वाले व्यक्ति को पित्त से संबंधित बीमारियां परेशान  करती हैं। अंक ज्योतिष के अनुसार मूलांक  1 वाले लोगों को दांत के  रोग, दिल की बीमारियां, सिर दर्द, मूत्र संबंधी रोग, नेत्र रोग आदि होने  की संभावना रहती है।

 

अंक 2 (जन्म तारीख: 2, 11, 20, 29) : मूलांक 2  के लोगों को आंतों में सूजन, गैस के रोग, ट्यूमर, फेफड़ों, मानसिक दुर्बलता संबंधी रोग आदि होने  की संभावना रहती है।

 

अंक 3 (जन्म तारीख: 3, 12, 21, 30): मूलांक 3  वाले लोगों को पीठ व पैरों में दर्द, चर्म रोग, स्नायु तंत्र यानी नर्वस सिस्टम के रोग,  गैस, हड्डियों के दर्द  का रोग, गले का रोग और लकवा होने  की आशंका रहती है।

 

अंक 4 (जन्म तारीख: 4, 13, 22, 31) : मुलांक 4  वाले लोगों को सांस की बीमारियां, दिल के रोग,  ब्लड-प्रेशर, पैरों में चोट, अनीमिया, नींद  की समस्य़ा, आंखों की समस्या, सिरदर्द,  पीठ दर्द आदि की शिकायत  हो सकती है।

 

अंक 5 (जन्म तारीख: 5, 14, 23) : मूलांक 5 के  लोगों को आमतौर पर अपच और  असिडिटी की समस्या से दो-चार  होना पड़ता है। मानसिक तनाव, सिरदर्द, जुकाम, कमजोर नजर,  हाथ और कंधों में दर्द, लकवा जैसे रोग होने  की संभावना रहती है।

 

अंक 6 (जन्म तारीख: 6, 15, 24) : जिन  लोगों का मूलांक 6 है उन्हें गले, गुर्दे, छाती, मूत्र-  विकार, हृदय रोग एवं गुप्तांगों के रोग,  डायबीटीज, पथरी, फेफड़ों के  रोग आदि होने की संभावना रहती है।

 

अंक 7 (जन्म तारीख: 7, 16, 25) : मूलांक 7 के  लोगों को बदहजमी, पेट के रोग, आंखों के  नीचे काले धब्बे, सिरदर्द, खून  की खराबी आदि की संभावना रहती है।  फेफड़े संबंधी रोग, चर्म रोग और याददाश्त  की कमजोरी का सामना भी करना पड़  सकता है।

 

अंक 8 (जन्म तारीख: 8, 10, 19, 28): मूलांक 8  के लोग लीवर के रोग, वात रोग सता सकते हैं। इसके  अलावा, इन्हें मूत्र-संबंधी रोग  आदि की संभावना है। इसके अलावा इन्हें डिप्रेशन  की शिकायत होने  की संभावना रहती है।

 

अंक 9 (जन्म तारीख: 9, 18, 27): मूलांक 9 वाले  लोगों को पेट के विकारों, आग से जलने, मूत्र  प्रणाली में विकार, बुखार-सिरदर्द, दांत के दर्द,  बाबासीर, रक्त विकार, चर्म रोग आदि।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *